11 जोडे बंधे परिणय सूत्र में: सामूहिक सम्मेलन से समाज में समरसता बढ़ती है-भामाशाह वर्मा सम्मेलनों में विवाह करने से फिजूलखर्ची में कमी आएगी-संस्था अध्यक्ष शर्मा

0
280

रिपोर्ट रामबिलास जोशी

फागी। डिग्गी उप तहसील मुख्यालय पर स्थित धर्मशाला में बुधवार को श्री जी सर्व धर्म सेवा संस्थान के तत्वाधान में सामूहिक विवाह सम्मेलन संपन्न हुआ। विवाह समारोह के मुख्य अतिथि भामाशाह केशर लाल वर्मा थे। उन्होंने सम्मेलन में उपस्थित सर्व समाज बंधुओं से कहा कि समाज द्वारा आयोजित सम्मेलनों से समाज में समरसता बढ़ती है, साथ ही फिजूलखर्ची पर भी कमी आती है। ऐसे सम्मेलन हर समाज को आयोजित कर गरीबों का उत्थान करने में सबको आगे आना चाहिए। समारोह की अध्यक्षता करते हुए संस्था के अध्यक्ष महेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि ऐसी सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित करने से समाज में भाईचारा बढ़ता है साथ ही हर समाज के गरीब लोगों का भला होता है,साथ ही सभी समाज के लोग एक जाजम पर बैठने से समाज संगठित होता है। विवाह समिति प्रवक्ता प्रमोद कुमार शर्मा बताया कि रविवार को प्रातः 7:00 बजे गजानंद भगवान की पूजा अर्चना की गई। उसके बाद शोभायात्रा निकाली गई।

उसके बाद 10:00 बजे दीप प्रज्वलित के साथ तोरण में वरमाला की रस्म पूरी की गई 12:30 बजे आशीर्वाद समारोह आयोजित किया गया । जिसमें सभी अतिथियों ने 11 जोड़ों को अपना आशीर्वाद देते उनके उज्जवल भविष्य की कामना की इससे पूर्व आचार्य पंडित गोपाल शास्त्री,सह आचार्य पंडित अक्षय गौतम के सानिध्य में 21 विद्वान पंडितों द्वारा मंत्रों के साथ विधिवत 1:30 बजे पानी ग्रहण संस्कार की रस्म पूरी की गई जिसमें 11 जोड़ों ने अग्नि के समक्ष अपने दांपत्य जीवन को निभाने की शपथ ली।

विवाह स्थल पर वर के लिए अयोध्या पुरी व वधु के लिए जनकपुरी बनाई गई थी। इस मौके पर संस्थान द्वारा सभी समाजसेवी व भामाशाहो को माला साफा पहनाकर स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया गया। इस मौके पर समिति के पदाधिकारी हंसराज गुर्जर, प्रमोद शर्मा, रमेश गुर्जर, मुकेश मीणा दीपक स्वामी तूफान मीणा सुरज्ञान गुर्जर जितेंद्र शर्मा मंगल गुर्जर हितेश चौधरी प्रदुमन राव सहित अनेक समाजसेवी और भामाशाह उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here